खुदा कहेता है इंसानों को …

धरती बाटी – मुल्क बाटा,

मत बाटो इंसानों  को

ये जात -पात कहा  से आया,

खुदा कहेता है इंसानों को …

 

मैंने दिल और धड़कन बनाया..

और तुमने मंदिर – मस्जिद बनाया..

मुझे दिलो से निकला  और वहा पे बिठाया..

खुदा कहेता है इंसानों को …

 

दिलो में प्यार बनाया…

खुशिओ से भरा जीवन बनाया…

लेकिन बुरी  आदते या चीज़ नहीं सिखाई..

खुदा कहेता है इंसानों को …

 

अफ़सोस नहीं हैरानी है

इंसानों को इतना क्यों समजदार बनाया..

मुझे सुक्रिया तो दूर कोसते है जीवनभर

खुदा कहेता है इंसानों को …

Advertisements